Breaking News
Home / खेल / बॉडी बनाने के नाम पर युवाओं को दी जा रही पशुओं की दवा, पांच जिम संचालक गिरफ्तार

बॉडी बनाने के नाम पर युवाओं को दी जा रही पशुओं की दवा, पांच जिम संचालक गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर थाना नगर कोतवाली पुलिस के साथ नारकोटिक्स कण्ट्रोल टीम ने जिले में कई जिमों पर छापे मारे है जिसके बाद कई खुलासे हुए है बता दे की शहर के जिम में युवाओं काे स्टेरॉयड और पशुओं की प्रतिबंधित दवा दी जा रही थी।सोचना मिलने के बाद पुलिस ने नारकोटिक्स कण्ट्रोल की टीम के साथ शहर के तीनों थाना क्षेत्रों में पांच जिम संचालकों को गिरफ्तार किया है और इन छापो से उन्हें बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित दवाएं मिली है।

मुजफ्फरनगर के पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव का कहना है की छापेमारी के दौरान गिरफ्तार जिम संचालकों से युवाओं को दी जा रही जानलेवा दवाएं बरामद की गई है उनके अनुसार दवाई बिना उचित लाइसेंस के कंबोडिया, रूस, थाईलैंड आदि जो की विदेशो से आती थी और इन्हे जिम चलने वाला ही मंगाया करता था और वह बॉडी बनाने के नाम पर युवाओं इस तरह की जानलेवा दवा दे रहे थे जिनके बारे में उन्हें पता ही नहीं था।

दवाएं जानवरों को भी दी जाती थी जो की बेहद सस्ते दामों में खरीदी जाती थी इस दवा को महंगे दामों पर बेचा जा रहा था।इस दवा के बाद जिम में आए युवाओं की किडनी खराब होना, हड्डियों पर हानिकारक प्रभाव होना और शरीर में बेचैनी आदि शारीरिक प्रभाव पड़ता है।छापे में पुलिस को जिम संचालकों के पास से एडीनोसाइन मोनोफॉस्फेट इंजेक्शन, मेपीन्तरिनमाइन सल्फेट, ट्रेनबलून, एएमपी, रिडेक्स ट्रोपिन, फ्रॉग आर/पी, विन 100- स्टेनजोलोल, आदि प्रतिबंधित दवाएं बरामद की गई हैं।

आपको बता दे की पुलिस ने पुलिस ने ओमप्रकाश धीमान निवासी नई मंडी, मोहम्मद शहीद निवासी खालापार, इकबाल निवासी सरवट, जगत सिंह निवासी रामपुरी थाना कोतवाली, अब्दुल बासित निवासी लद्दावाला को इस मामले में अरेस्ट किया है इन सभी पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल में डाल दिया है एसएसपी का कहना है की अब अगला टारगेट इन प्रतिबंधित दवाओं को बेचने वाले मेडिकल स्टोर होंगे।

About wpadmin