Breaking News
Home / खेल / 5 साल तक नहीं देखी थी माता-पिता ने मीराबाई की शक्ल, माँ बाप को देख खूब रोई मीराबाई चानू

5 साल तक नहीं देखी थी माता-पिता ने मीराबाई की शक्ल, माँ बाप को देख खूब रोई मीराबाई चानू

टोक्यो ओलंपिक्स में भारत को पहला मेडल जितने वाली मीराबाई चानू भारत वापस आ चुकी है और उनका स्वागत जोरों शोरों से किया गया और इन्हें मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह द्वारा सम्मानित किया गया। सिर्फ उनकी एक झलक पाने के लिए एयरपोर्ट पर हजारो लोग आ गए थे लोगो को देख सुरक्षाकर्मियों की मदद से किसी तरह से इन्हें वह से निकाला गया जिसके वह अपने गांव नोगपोक काकचिंग पहुंची।

 

आपको बता दे की उनका गांव नोगपोक काकचिंग इंफाल से करीब 25 किलोमीटर की दूरी पर है और जैसे ही इन्होंने अपनी मां सेखोम ओंगबी तोम्गी लीमा और पिता सेखोम कृति मेइतेई को देखा और वह अपने आँसू नहीं रोक पाई थी आपको बता दे की मीराबाई चानू पांच साल बाद अपनी मां से मिली थी।

 

ओलंपिक में जाने के लिए मीराबाई चानू को अपने गांव से दूर जाना पड़ा था ताकि वह अच्छे से प्रैक्टिस कर सके अपनी प्रैक्टिस के लिए वह अपनी बहन की शादी में भी हिस्सा नहीं ले पाईं और ओलंपिक में पदक जीतने के बाद जब ये अपने घर आई तो मां ने अपनी बेटी को गले से लगा लिया।

 

मीराबाई की मां सेखोम ओंगबी तोम्गी लीमा और पिता सेखोम कृति मेइतेई अपनी बेटी की इस उपलब्धि पर बेहद ही खुश हैं वह अपनी बेटी के लिए सबसे ज्यादा खुश है जिसने आखिरकारसपना कई सालों बाद पूरा करके दिखाया है।

आपको बताते चले की मीराबाई चानू का स्वागत करने के लिए मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह भी हवाई अड्डे पर पहुंचे थे और मुख्यमंत्री ने इन्हें राज्य सरकार की ओर से एक करोड़ रुपये का चैक और साथ ही एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस पद का नियुक्ति पत्र दिया है।

 

इसके साथ ही डोमिनोज कंपनी की ओर से भी मीराबाई चानू का अपनी तरह से स्वागत किया गया जब वह अपने घर पहुंची तो इन्हें फ्री में पिज्जा मुहैया कराया गया।

About wpadmin