Breaking News
Home / खेल / पिता मजदूर, मां सड़क पर दुकान चलाती, बेटे के पास खेलने को गेंद नहीं थी, IPL में बना यार्कर किंग

पिता मजदूर, मां सड़क पर दुकान चलाती, बेटे के पास खेलने को गेंद नहीं थी, IPL में बना यार्कर किंग

दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट प्रीमियर लीग आईपीएल जिसने ना जरने कितनो की करियर बनाए है यहाँ से सफलता मिलने के बाद कई क्रिकेटर्स की परिवार की आर्थिक स्थिति को बेहतर और डेथ ओवर स्पेशलिस्ट नाम से फेमस थंगरासू नटराजन की कहानी कुछ ऐसी ही है वो वो IPL में यार्कर किंग बनकर उभरे हैं और कई सालो के संघर्षपूर्ण के बाद अब लोग उनके नाम जानते है।

वैसे आईपीएल में नाम करने से पहले वो तमिल नाडु क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे थे और हाल ही में उन्हें आईपीएल 2020 में सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से खेलने का मौका मिला है आपको बता दे की उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ हुए मुकाबले में डेथ ओवर में अपनी कई यार्कर गेंद से बल्लेबाजों को रन बनाने पर मजबूर कर दिया।

थंगरासू नटराजन ने अंतिम ओवरों में शानदार गेंदबाजी की थी और अपने सीमित 4 ओवर में 25 रन देकर एक विकेट चटकाया था।वैसे बता दे की थंगरासू एक बहुत ही गरीब परिवार से है नटराजन का जन्म 27 मई 1991 को हुआ था नटराजन तमिलनाडु के सलेम जिला के गांव चिन्नप्पमपट्टी से आते हैं एक ऐसी जगह जहा पर सिर्फ अपने सपनो के बारे में सोच सकते है पर उन्हें हक़ीक़त बना बहुत ही ज्यादा मुश्किल का है।

उनके पिता साड़ी की फैक्ट्री में मजदूरी करते तो वही उनकी मां सड़क किनारे दुकान लगाकर परिवार का पालन पोषण करती उनके साथ साथ उनके कुल पांच भाई-बहन हैं जिसमे नटराजन सबसे बड़े हैं इस वजह से पूरा परिवार उनपर निर्भर था काफी समय से पूरा परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा था और जा अपनी मेहनत एक चलते नटराजन को सफलता के साथ साथ अपने सपनो की ज़िन्दगी जीने को मिल रही है साथ ही अब वो अपने परिवार की अर्थिम रूप से मदद भी कर रहे है।

 

About wpadmin