Breaking News
Home / मनोरंजन / जानिए IT की रेड में जब्त नकदी-आभूषण और संपत्ति का क्या होता है?

जानिए IT की रेड में जब्त नकदी-आभूषण और संपत्ति का क्या होता है?

आज के वक़्त में इनकम टैक्स की रेड के नाम से हर कोई बहुत ही ज़्यदा डरता है आयकर विभाग की टीम जब एक बार रेड दाल देती है किसी के घर पर उसके बाद में उस इंशान के जीवन में मुश्किल बढ़ ही जाती है सोशल मीडिया पर इस वक़्त इनकम टैक्स की कई तस्वीरें सामने आई हैं. जिनमें कैश का पहाड़ और ढेर सारे गहने देखे जा सकते हैं मगर आज भी कई लोगो को इस बायत की जानकरी नहीं है की जेवर और संपत्ति जो की छापेमारी के वक़्त हासिल होती है उसका क्या किया जाता है आज हम आपको इस बात की ही जानकरी देने वाले है।

खबरों के अनुसार हमको यह जानकरी हासिल हुई है की इनकम टैक्स के छापे से पहले यह चिन्हित किया जाता है कि कौन टैक्स चोरी की संदिग्ध गतिविधियों में शामिल है. बाद वरिष्ठ अधिकारियों के नेतृत्व में सर्च वारंट जारी किया जाता है. ये प्रक्रिया पूरी होने के बाद सर्च अभियान के लिए टीम तैयार की जाती है.बाद में सर्च टीम के हर सदस्य का चयन होने के बाद उन्हें छापेमारी के लिए कहा जाता है ।

मगर उस वक़्त तक सर्च टीम को यह मालूम नहीं होता है की वो किसके घर पर रेड देने के लिए जा रहे है टीम से संदिग्ध व्यक्ति की पहचान गुप्त रखी जाती है. यहां तक कि सर्च टीम को यह भी नहीं बताया जाता हैसर्च टीम में अलग-अलग नंबर तय किए जाते हैं. टीम जब संदिग्ध व्यक्ति के घर या संस्थान में पहुंच जाती है तब उसे ज्ञात होता है कि उसे कहां छापेमारी करनी है. ठिकाने पर पहुंचने के बाद इनकम टैक्स की सर्च टीम संदिग्ध व्यक्ति को सर्च वारंट देती है और सर्च ऑपरेशन शुरू होता है. एक बार सर्च ऑपरेश शुरू हो जाने के बाद उस परिसर से किसी को बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जाती है टीम वह पर फ़ोन का इस्तमाल भी नहीं कर सकती है और किसी भी बहार वाले से बात करने के लिए मन होता है ।

अगर किसी व्यक्ति को वॉशरूम भी जाना है तो उसके लिए इनकम टैक्स ऑफिसर की अनुमति लेना जरूरी है. जब्त किए गए कैश को आयकर विभाग के आयुक्त से जुड़े बैंक खातों में जमा कराया जाता है. इसके बाद संबंधित अधिकारी पूरी संपत्ति, आय, कैश और अन्य चीजों की बारीकी से जांच करते हैं. पूरी गणना होने के बाद संदिग्ध व्यक्ति की टैक्स चोरी और जुर्माना का हिसाब लगाया जाता है. अगर टैक्स देने के बाद में कुछ पैसा बचता है तो उसको वापस कर दिया जाता है।

About wpadmin