भारत के इस खतरनाक मिसाइल के निशाने पर आया चीन, एक छोटी सी गलती पर.

आपको बता दे की पहले भारत की परमाणु नीति सुरक्षात्मक थी पर बदलते समय के साथ साथ इस में भी बदलाव आया है और भारत की ये नीति आक्रामक हो गयी है और इसलिए चीन भारत को धमकाने की कोशिश ना करें तो उसके लिए अच्छा ही होगा इसकी वजह ये है की चीन के उकसावे के बाद भारत अपनी ताकत दिखाने से पीछे बिलकुल नहीं हटेगा।

बता दे की साल 2017 के डोकलाम विवाद के बाद से ही भारत ने अपने परमाणु रणनीति का ध्यान पाकिस्तान से हटाकर पेइचिंग पर केंद्रित कर लिया था और अब भारत के परमाणु मिसाइलों के निशाने पर कोई और नहीं बल्कि चीन की राजधानी पेइचिंग भी हैं चीन के पास आधुनिक हथियार वो पर भारत के पास उसकी वीर सेना जिसके पहले ही मुँह की कहानी पड़ी है और परमाणु मिसाइलों मौजूद है।

सभी जानते है की भारत और चीन के बीच चल रहा विवाद अभी तक शांत नहीं हुआ है ये ही नहीं चीन ने भारत को युद्ध की धमकी भी दे रहा हैं वैसे इसे ही बीच अमेरिकी थिंक टैंक की रिपोर्ट के अनुसार चीन भारत को युद्ध की धमकी देना बंद करें तथा युद्ध करने की भूल बिल्कुल ना करें।

पहले भारत के परमाणु हथियारों के निशाने पर पाक था पर अब मनो भारत का एक नया दुश्मन आ चूका है चीन जो अब परमाणु हथियारों के निशाने पर है वैसे आपको बता दे की भारत कई बार चीन से कहा चूका है की ये मामला बात करके बी सुलझाया आ सकता है पर अगर कुछ होता है तो भारत चीन को अच्छे से टक्कर दे सकता है।