Breaking News
Home / खबरे / बारबाडोस 400 साल बाद बना गणतंत्र देश, महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन खत्म; नए राष्ट्रपति की हुई नियुक्ति

बारबाडोस 400 साल बाद बना गणतंत्र देश, महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन खत्म; नए राष्ट्रपति की हुई नियुक्ति

एलिजाबेथ जो की कैरिबियाई द्वीपों की महारानी है बताया जा रहा है की अब इनका राज खत्म हो गया है और अब यह देश पूरी तरह से आज़ाद हो गया है और तो 400 साल बाद बारबाडोस ब्रिटेन से अलग होकर 55वां गणतंत्र देश बन गया है। और आपको बता दे की महारानी एलीजाबेथ द्वितीय अब वह की महरानमी नहीं होगी यह बात सबको तब पता चली जब एक प्रियकरम में क्वीन का प्रतिनिधित्व करने वाले रायल स्टैंडर्ड ध्वज हटा दिया गया था

आपको बता दे की उस प्रियकरम में प्रिंस चार्ल्स भी आये हुआ थे और अब मेसन देश के राष्ट्रपति गवर्नर जनरल सैंड्रा बहन गए है मेसन ने बारबाडोस की पहली राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।जज भी रह चुकी हैं और उन्होंने वेनेजुएला, कोलंबिया, चिली और ब्राजील के राजदूत के तौर पर भी काम किया है।
बारबाडोस के बारें में जानते है थोड़ा बतया जाता है की वह की आबादी सिर्फ 3 लाख है कैरिबियाई देशों में सबसे अमीर देश माना जाता है।

यहाँ की अर्थव्यवस्था ज़्यदा तर विदेशी लोगो पर निर्भर होती हैसालों की आजादी के बाद बारबाडोस 1966 में आजाद हो गया था लेकिन यहां क्वीन एलीजाबेथ का शासन चलता था। 1970 के बाद किसी कैरिबियाई देश में ऐसा देखने को मिला है। और आपको बता दे की साल 2005 में बारबाडोस ने त्रिनिदाद स्थित कैरिबियाई कोर्ट आफ जस्टिस इस बारें में बात की गई थी और लंदन स्थित प्रिवी काउंसिल को हटा दिया था। साल 2008 में बारबाडोस ने खुद यह प्रयास किया की वो अपने देश को आज़ाद भनाये इसके लिया उन्होंने प्रस्ताव रखा, लेकिन इसे अनिश्चितकालपर ध्यान नहीं दिया गया था । मगर आज 30 नवंबर को बारबाडोस गणतंत्र देश बन गया है। इस देश का अब खुद का झंडा होगा

About wpadmin